Sunday, February 7, 2021

शिक्षामित्रों का भविष्य सुरक्षित करने व 62 वर्ष सेवाकाल जल्द खुशखबरी shikshamitra latest news

 शिक्षामित्रों का भविष्य सुरक्षित करने की मांग



उन्नाव। उप्र प्राथमिक शिक्षामित्र संघ के पदाधिकारियों ने सीएम को संबोधित दो सूत्री मांगों का ज्ञापन सदर विधायक को दिया। उन्होंने शिक्षामित्रों का भविष्य सुरक्षित करने की मांग की।




शिक्षामित्र संघ के जिला संरक्षक दीपनारायण त्रिवेदी ने कहा कि शिक्षामित्र स्नातक, बीटीसी व इक्कीस सालों का अनुभव रखते हैं। विधानसभा चुनाव के समय संकल्प पत्र में शिक्षामित्रों की समस्या को तीन महीने में निस्तारित करने की बात कही गई थी। जिले में 3248 शिक्षामित्र कार्यरत हैं जो भविष्य की चिंता व अल्प मानदेय के कारण दयनीय स्थिति में अपना जीवन यापन कर रहे हैं। हमारी मांग है कि 20 अगस्त 2018 में उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा की अध्यक्षता में बनी हाई पावर कमेटी के निर्णय में शिक्षामित्रों का भविष्य सुरक्षित किया गया है। शिक्षामित्रों को भी राज्य के अन्य कर्मचारियों की तरह चिकित्सा, बीमा, 14 आकस्मिक अवकाश के साथ, 62 साल का कार्यकाल करते हुए प्रशिक्षित वेतनमान व अन्य सुविधाएं प्रदान की जाएं। ज्ञापन देने वालों में सुधाकर शुक्ला, कुलदीप शुक्ला, कमलकांत, भानु प्रताप सिंह शामिल रहे।

Previous Post
Next Post

post written by:

0 Comments: