शिक्षामित्रों के भविष्य को सुरक्षित करने को लेकर लगातार कार्य जारी 69000 सहायक शिक्षक से पहले मिल सकती है खुशखबरी shikshamitra samayojan latest news hindi - Sarkari Khabar

Thursday, 15 October 2020

शिक्षामित्रों के भविष्य को सुरक्षित करने को लेकर लगातार कार्य जारी 69000 सहायक शिक्षक से पहले मिल सकती है खुशखबरी shikshamitra samayojan latest news hindi

 

शिक्षामित्रों के भविष्य को सुरक्षित करने को लेकर लगातार कार्य जारी 69000 सहायक शिक्षक से पहले मिल सकती है खुशखबरी shikshamitra samayojan latest news hindi

दोस्तों यह पोस्ट पढ़ने के बाद आप अपने सभी साथियों में जरूर शेयर करें ताकि उनको भी पता चले की आप सभी लोगों के भविष्य को लेकर संघ के अध्यक्ष व लोग चिंतित हैं


 देवरिया। उत्तर प्रदेश दूरस्थ बीटीसी शिक्षक संघ की बैठक रविवार को सदर बीआरसी सभागार में हुई। इसमें संघ के प्रदेश सचिव फारूख अहमद खान ने कहा कि प्रदेश के शिक्षामित्र हताश व निराश न हो। जल्द ही दुख के बादल छंटने वाले हैं। यूपी सरकार शिक्षामित्रों को पुनःस्थाई करने की योजना बना रही है। दीपावली से पहले शिक्षामित्रों को उनका सम्मान वापस मिलने की उम्मीद है।


उन्होंने कहा कि शासन शिक्षामित्रों को लेकर अब गंभीर है। मुख्यमंत्री शिक्षामित्रों को कभी भी उपहार दे सकते हैं। जिले के बीएसए से मिलकर संगठन शिक्षामित्रों का जो भी बकाया है, उसके भुगतान की मांग करेगा।

दोस्तों यह पोस्ट पढ़ने के बाद आप अपने सभी साथियों में जरूर शेयर करें ताकि उनको भी पता चले की आप सभी लोगों के भविष्य को लेकर संघ के अध्यक्ष व लोग चिंतित हैं शासन ने बजट जारी कर दिया है। जिलाध्यक्ष जयप्रकाश यादव ने कहा कि शिक्षामित्रों को बकाया मानदेय न मिलने से उनकी आर्थिक स्थिति खराब हो गई है। संगठन विभाग से उनके बकाये के जल्द भुगतान की मांग करता है। इस दौरान संतोष गुप्ता, शक्ति सिंह, मनोज गुप्ता, कौशल किशोर, नागेंद्र, संतोष विश्वकर्मा, मकरध्वज, गेना, विचंडी यादव, मुकेश सिंह, अफजल इकसाद, पुनीत मिश्रा, रामसमुझ, विजय यादव, मनोज यादव, अखिलेश यादव, विजय गुप्ता, अमित सिंह आदि मौजूद रहे। संचालन मंडल अध्यक्ष कौशल किशोर यादव ने किया।दोस्तों यह पोस्ट पढ़ने के बाद आप अपने सभी साथियों में जरूर शेयर करें ताकि उनको भी पता चले की आप सभी लोगों के भविष्य को लेकर संघ के अध्यक्ष व लोग चिंतित हैं

यह है 69000 भर्ती का मामला

31,277 शिक्षकों की अनंतिम सूची में कम गुणांक वाले अभ्यर्थियों के चयन की जांच का आदेश


प्रयागराज : बेसिक शिक्षा परिषद के प्राथमिक स्कूलों में 31,277 शिक्षकों की अनंतिम सूची पर सवाल उठ रहे हैं। राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग आयोग तक कम गुणांक वाले अभ्यर्थियों के चयन की शिकायत हुई है। आयोग ने बेसिक शिक्षा के अफसरों को पत्र भेजकर इसकी जांच का आदेश दिया है। तीन दिन में आरोपों की जांच करके कार्रवाई रिपोर्ट मांगी है।


परिषदीय स्कूलों की शिक्षक भर्ती की अनंतिम सूची में जगह न पाने वाले शिव शंकर व अन्य ने राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग आयोग को पत्र भेजा कि 69,000 पदों में से 31,277 अभ्यर्थियों की सूची बेसिक शिक्षा विभाग ने जारी की है। इसमें उच्च गुणांक वाले कई अभ्यर्थी चयन सूची में नहीं है, जबकि कम गुणांक वालों को चयनित किया गया है। ऐसी ही कई शिकायतें हैं। राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग आयोग उपाध्यक्ष के निजी सचिव संदीप कुमार ने बेसिक शिक्षा की अपर मुख्य सचिव, प्रमुख सचिव, विशेष सचिव व निदेशक बेसिक शिक्षा को पत्र भेजा है। बेसिक शिक्षा की अपर मुख्य सचिव रेणुका कुमार का कहना है कि यह भर्ती सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर कराई जा रही है।

No comments:

Post a comment

Post Top Ad